दूसरे बड़ा मंगल पर 4 दर्जन आयोजक बने ई-भंडारा सेवादार

इस बार ज्येष्ठ मास में ४ बड़े मंगल है। जेठ का दूसरा बड़ा मंगल ८ जून को पड़ा। इस मौके पर लगभग 4 दर्जन आयोजकों ने मंगलमान समिति एवं नगर निगम के सम्मिलित प्रयास से अपने भंडारा लगाने का सकल्प पूर्ण किया। इंदिरा नगर निवासी सु श्री सुमन श्रीवास्तव एवं सहयोगियों को कोरोना काल में जब यह लग रहा था कि लखनऊ का यह महापर्व नहीं हो पाएगा ऐसे में मंगलमान समिति एवं नगर निगम Read More

ई-भंडारा करने वालों का होगा सम्मान

जेठ दूसरा बड़ा मंगल आज है। इस बार 1, 8, 15 ,22 को बड़े मंगल है। कोरोना काल में जब यह लग रहा था कि लखनऊ का यह महापर्व नहीं हो पाएगा ऐसे में मंगलमान समिति एवं नगर निगम मिलकर जो ई भंडारा का विकल्प प्रस्तुत किया है वह लखनऊ वासियों और खासकर बड़ा मंगल पर भंडारा आयोजक करने वालों को एक सुन्दर विकल्प दे रहा है। इसकी घोषणा पिछले रविवार को लखनऊ की महापौर Read More

मुंबई में भी मना पहला बड़ा मंगल २०२१

जेठ माह के प्रथम बड़े मंगल पर मंगलमान अभियान के तहत लखनऊ के विभिन्न स्थानों पर मंगल मान अभियान की टीम और लखनऊ नगर निगम द्वारा ई भंडारा मोबाइल वैन के जरिया लखनऊ के अनेक स्थानों पर भंडारे का आयोजन किया गया। जैसे कि मंगलमान अभियान का लक्ष्य है हर दिन मंगल हो ,हर मंगल बड़ा मंगल हो ,बड़े मंगल से राष्ट्र मंगल हो और इस लखनऊ की प्राचीन प्रथा को प्रदेश के बाहर और Read More

पहले बड़ा मंगल पर सोशल डिस्टैंसिंग के साथ ई-भंडारा

जेष्ठ मास के आरंभ होते ही लखनऊ शहर में लगने वाले बड़े मंगल के भंडारों का सहज ही स्मरण हो जाता है। वर्तमान समय में कोविड 19 जैसी समस्या के चलते सभी हनुमत भक्तों के सामने यह प्रश्न था कि क्या इस बार बिना भंडारों की ही जेष्ठ मास बीत जाएगा? इसी विचार को केंद्र में रखते हुए मंगलमान ने महापौर के आशीर्वाद से ई-भण्डारा मोबाइल सेवा के माध्यम से इसे मूर्तरूप देने का संकल्प Read More

२०२१ पहला बड़ा मंगल ई भंडारा मोबाइल सेवा- रुट मैप

प्रथम बड़ा मंगल को प्रसाद वितरण का कार्य प्रातः 9 बजे महापौर जी के आवास से प्रारंभ किया जायेगा। वहां पर महापौर  बजरंग बली की पूजा अर्चना करेगी और प्रसाद में मुख्य रूप से लाईया चना, गुड, बिस्क्युट, केला, बूंदी, आयुर्वेदिक काढ़ा बांटा जायेगा। इसके साथ ही मास्क, सिनेटाइजर, ग्लब्स, हैंडवॉश जैसी वस्तुओं का वितरण भी होगा। ई भण्डारा प्रसाद वाहन महापौर के आवास से निकल कर कृष्णा नगर मेट्रो स्टेशन, सिंगार नगर, आलमबाग चौराहा, Read More

कोरोना और लॉकडाउन में करे ई-भंडारा, ई-भंडारा मोबाइल सेवा की शुरुआत, जरूरतमन्दों तक प्रसाद

जेठ का माह प्रारम्भ हो गया है जिसमे लखनऊ में मंगलवार को हनूमान जी पूजा अर्चना के साथ भण्डारे की परंपरा है। इन मंगलो को बड़ा मंगल कहते है। इस बार 4 बड़े मंगल है जो क्रमशः 1, 8, 15 तथा 22 जून को है। लॉकडाउन और कोरोना संक्रमण के चलते बड़े मंगल पर आयोजित होने वाले भंडारों पर आयोजको के संशय को दूर करते हुए महापौर संयुक्ता भाटिया ने ई-भंडारे की व्यवस्था प्रदान की।मंगलमान Read More

पहला बड़ा मंगल २०२१ – ०१ जून

ज्येष्ठ मास में पड़ने वाले प्रथम मङ्गल को ही “बड़ा मङ्गल” कहते हैं। वर्ष २०२१ में ज्येष्ठ का प्रथम मङ्गलवार ०१ जून को पड़ रहा है। इस दिन को लखनऊवासी बड़े ही धूम धाम से श्रद्धा पूर्वक “बड़ा मंगल” के रूप में मनाते है। इस बार का “प्रथम बड़ा मंगल” कृष्ण पक्ष की सप्तमी तिथि को पड़ रहा है जिसमें चंद्र धनु राशि में स्थित है एवं धनिष्ठा नक्षत्र होने के कारण अत्यंत ही शुभ Read More

कोरोना काल में बड़ा मंगल

कोरोना के प्रकोप से पूरा देश कराह रहा है। बहुत से लोग शहर में बाहर से पढ़ने, कमाने या फिर किसी और काम से आये थे और फंस गए हैं। अनेको के पास रहने, खाने का कोई इंतजाम नहीं है। कई लोग रेस्टोरेंट या ठेले पर  बाटी-चोखा, पुड़ी-सब्जी खाकर  पेट भरते थे। लॉक डाउन होने के कारण वे भी फस गए है और भूखे सो रहे हैं। शहरी गरीबों की स्थिति तो और भी दयनीय Read More

भण्डारे में प्रसाद बाँटने वालों और प्रसाद लेने वालों से एक आग्रह..

“भण्डारा हमारी श्रद्धा है, तो स्वच्छता हमारी जिम्मेदारी। स्वच्छता का ध्यान रक्खें, और प्रसाद का मान रक्खें ।।” भण्डारे के प्रसाद को Status symbol मत बनाएंः हम सामान्य तौर पर पूजा के निमित्त जो प्रसाद बांटते हैं हनुमानजी.को उसका ही भोग लगाएं और वितरित करें । माँ दुर्गा का प्रसाद पूडी, चना और हलवा है, हनुमान जी को लड्डू और बूंदी प्रसाद चढता है जो उनको प्रिय भी है । गर्मी होने के नाते शरबत Read More

बी एस एन वी पीजी कॉलेज आयोजित करेगा पर्यावरण अनुकूल भंडारा

बप्पा श्री नारायण पोस्ट ग्रेजुएट कॉलेज 28 मई को दूसरे बड़े मंगल के अवसर पर कॉलेज परिवार की ओर से भंडारे का आयोजन करने जा रहा है। कॉलेज के प्राचार्य डॉ राकेश चंद्रा ने कहा कि हमारे द्वारा आयोजित भंडारा पर्यावरण संरक्षण का संदेश देने का प्रयास करेगा। हम प्लास्टिक की बस्तुओं का उपयोग नहीं करेंगे और स्वच्छता पर विशेष ध्यान रखेंगे। भंडारा हमारी श्रद्धा है, हम बड़े ही भाव से पूर्वक प्रत्येक वर्ष भंडारे Read More