ई-भण्डारा कैसे लगाये ?

[DISPLAY_ULTIMATE_SOCIAL_ICONS] कोरोना महामारी के कारण उत्पन्न हुई विशेष परिस्थितियों के चलते २०२० के ज्येष्ठ के मंगलो (बड़ा मंगल) का महत्व और भी अधिक बढ़ जाता है। आज की आवश्यकता हर मंगल को बड़ा मंगल और हर दिन को मंगल करने की है। परन्तु लॉकडाउन एवं सोशल डिस्टैन्सिंग के दिशा-निर्देशों के परिपेक्ष्य में परंपरागत स्वरुप में भंडारों का आयोजन अत्यंत ही दुरूह कार्य है।

ई-भंडारे का आयोजन अत्यंत ही सरल है जिसे आप आसानी से कर सकते है।

आपका संकल्प ५ चरणों में पूर्ण होता है।

चरण ०१- संकल्प– सर्वप्रथम ई-भंडारा आयोजित करने का संकल्प लेना है। (किस तिथि को एवं कितने लोगो का भंडारा)

चरण ०२- संपर्क– मंगलमान टीम से संपर्क कर ई-भंडारा का पंजीकरण करना है। इसे ऑनलाइन फॉर्म भर कर अथवा दिए गए नंबर पर फोन /व्हाट्सप्प के माध्यम से किया जा सकता है।

चरण ०३- संसाधन– आयोजन तिथि से कम से कम दो दिन पूर्व सभी संसाधनों (सामग्री) की उपलब्धता ई-भण्डारा टीम को सुनिश्चित करानी है।

चरण ०४- सहभागिता– वितरण के पूर्व बजरंग बली की पूजा-अर्चना के साथ प्रसाद का भोग लगाया जाता है जिसमे आपको कही से भी अपने इष्ट मित्रो के साथ ऑनलाइन सहभागी बनने का अवसर प्राप्त होगा।

चरण ०५- संतुष्टि – भंडारे के आयोजन के पश्चात् एक फॉर्म (संतुष्टि फॉर्म) भरने की आपसे प्रार्थना की जाती है। जिससे भंडारा आयोजन के उद्देश्यों की सफलता एवं आपके संतुष्टि के स्तर का पता चल सके। इससे हमे सेवा कार्य की गुणवत्ता को संवर्धित करने का सुअवसर एवं आपका मार्ग दर्शन प्राप्त होगा।

Leave a Comment